अर्गला

इक्कीसवीं सदी की जनसंवेदना एवं हिन्दी साहित्य की पत्रिका

Language: English | हिन्दी | contact | site info | email

Search:

अमरकांत

Amarkant

नाम: अमरकांत

उम्र: 92 वर्ष

जन्म स्थान: भगमलपुर (नगरा), जिला बलिया (उ. प्र.)

अनुभव: आगरा के दैनिक पत्र "सैनिक" के सम्पादकीय विभाग में सन 1948 ई. में कार्यारम्भ. तत्पश्चात इलाहाबाद के दैनिक "अमृत पत्रिका", दैनिक "भारत", मासिक "कहानी" पत्रिका तथा लखनऊ की पाक्षिक पत्रिका "उजाला" में कार्य करने के पश्चात इलाहाबाद की पाक्षिक महिला पत्रिका "मनोरमा" का लगभग तीस वषों तक सम्पादन.

संप्रति: पत्रकारिता (सेवा-निवृत्त)

प्रकाशित रचनायें: जिन्दगी और जोंक, देश के लोग, मौत का नगर, मित्र मिलन, तूफान, कुहासा, एक धनी व्यक्ति का बयान, दु:ख और सुख का साथ, अमरकांत की सम्पूर्ण कहानियाँ खण्द एक और दो, प्रतिनिधि कहानियाँ, जाँच और बच्चे, औरत का क्रोध; बाल साहित्य: नेऊर भाई, वानर सेना, खूँटा में दाल है, बाबू का सपना, दो हिम्मती बच्चे, मँगरी; प्रौढ़ साहित्य: सुग्गी चाची का गाँव, झगरू लाल का फैसला, एक स्त्री का सफर; संस्मरण: कुछ यादें और बातें, दोस्ती

कहानियाँ: 1: विभिन्न कहानियाँ इलाहाबाद, कानपुर, दिल्ली, वाराणसी, मेरठ, कुरुक्षेत्र, रीवाँ, कालीकट, पंजाब आदि विश्वविद्यालयों की पाठ्य-पुस्तकों में सम्मिलित तथा और विश्वविद्यालयों में प्रतिनिधि कहानियाँ
2: महाराष्ट्र के अम्बेडकर विश्वविद्यालय की हिन्दी पाठ्य-पुस्तक में कहानियाँ सम्मिलित.
3: उत्तर प्रदेश इण्टरमीडिएट बोर्ड की "कथा भारती" नामक पाठ्य पुस्तक में सम्मिलित. बिहार हाई स्कूल बोर्ड में भी एक कहानी "दोपहर का भोजन" पढ़ाई जा रही है. हिमाचल प्रदेश, हरियाणा तथा दिल्ली पब्लिक स्कूलों के बोर्डों की पाठ्य-पुस्तकों में भी कहानियाँ शामिल की जा चुकी हैं. एन. सी. आर. टी. पाठ्य क्रम देश की सभी प्रांतों में शामिल. आई. ए. एस. में कहानी शामिल.
4: दिल्ली, लखनऊ, बम्बई, जालन्धर दूरदर्शन द्वारा कहानी 'डिप्टी कलक्टरी' तथा "दोपहर का भोजन" का प्रसारण.
5: दिल्ली के राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय तथा अन्य कई नगरों के रंगमंचों पर कहानियों का नाट्य रुपान्तरण प्रदर्शित. रचनाओं का कई प्रान्तों में मंचन.
6: बम्बई में श्री सत्यदेव दुबे द्वारा 'हत्यारे' कहानी की नाट्य प्रस्तुति.
7: एन. सी. ई. आर. टी. की इण्टरमीडिएट कक्षा की एक पाठ्य पुस्तक में "बौरैया कोदो" नामक कहानी हाल ही में ली गई है.
8: रेडियो से प्रसारण तथा अनेक विश्वविद्यालयों में कहानियों तथा उपन्यासों पर शोध-कार्य.
9: विश्व के अनेक देशों जापान, फ्राँस, अमेरिका, हंगरी, कोरिया आदि में अमरकांत की रचनायें पाठ्यक्रम में शामिल.

उपन्यास: सूखा पत्ता, आकाश पक्षी, काले-उजले दिन, कँटीली राह के फूल, ग्राम सेविका, सुख जीवी, बीच की दीवार, सुन्नर पांडे की पतोह, बलिया के भारत छोड़ो आन्दोलन पर आधारित एक नया, बड़ा उपन्यास "इन्हीं हथियारों से" प्रकाशित, लहरें, बिदा की रात.अंग्रेज़ी अनुवाद: अमेरिका, हंगरी, जर्मनी, फ्रांस, रूस, जापान, इंग्लैंड में तथा देश की सभी प्रादेशिक भाशाओं में कहानियों एवं उपन्यास के अनुवाद प्रकाशित; पेंग्विन इंडिया द्वारा कहानी का अंग्रेजी अनुवाद प्रकाशित; अन्य कुछ अंग्रेजी के कथा संकलनों तथा अंग्रेजी की पत्रिकाओं थाट, मिरर, इम्प्रिन्ट, इलस्ट्रेटेड वीकली, अमेरिका की पत्रिका "महफिल", कलकत्ता राइटर्स वर्कशाप की पत्रिका में भी विभिन्न कहानियों के अनुवाद प्रकाशित.

सम्मान एवं पुरस्कार: सोवियत लैंड नेहरू पुरस्कार, मैथिलीशरण गुप्त राष्त्रीय पुरस्कार, उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान पुरस्कार, यशपाल पुरस्कार, मध्य प्रदेश के "कीर्तिअमरकांत" समारोह में सम्मानित, साहित्य अकादमी सम्मान, इलाहाबाद विश्वविद्यालय द्वारा सम्मान, महात्मा गांधी सम्मान

संपर्क: एफ़- 6, पंचपुष्प अपार्टमेंट, नेवादा अशोक नगर इलाहाबाद (उ. प्र.)