अर्गला

इक्कीसवीं सदी की जनसंवेदना एवं हिन्दी साहित्य की पत्रिका

Language: English | हिन्दी | contact | site info | email

Search:

कुँवर नरायण

Kunwar Narayan

नाम: कुँवर नारायण

उम्र: 89 वर्ष

जन्म स्थान: उत्तर प्रदेश

शिक्षा: एम. ए. (अंग्रेजी साहित्य) लखनऊ विश्वविद्यालय

संप्रति: अनेक पत्रिकाओं के सम्पादन से सम्बद्ध रहे जिनमें प्रमुख हैं - युगचेतना, नया प्रतीक और छायानट. लखनऊ के 'भारतेन्दु नाट्य केन्द्र' और 'उ. प्र. संगीत नाटक अकादमी' के क्रमश: अध्यक्ष और उपाध्यक्ष रह चुके हैं.

कविता संग्रह: चक्रव्यूह (1956; राजकमल प्रकाशन), तीसरा सप्तक (1959; भारतीय ज्ञानपीठ), परिवेश: हम तुम (1961; वाणी प्रकाशन), अपने सामने (1979; राजकमल प्रकाशन), कोई दूसरा नहीं (1993; राजकमल प्रकाशन), इन दिनों (2002; राजकमल प्रकाशन)

कहानी संग्रह: आकारों के आसपास

यात्राएँ: 1955 में पहली विदेश यात्रा- पोलंड, चेकोस्लोवाकिया, रूस तथा चीन में काफ़ी समय बिताया. उसी समय पाब्लो नेरूदा, नाज़िम हिकमत तथा एन्टन स्वनीम्स्की से मुलाकातें जिसका शुरूआती साहित्यिक जीवन में खास महत्व रहा है. स्वीडन के कई विश्वविद्यालयों में काव्यपाठ तथा साहित्यिक गोष्ठियों में भागीदारी, 1994 में वेनिस यूनिवर्सिटी में व्याख्यान माला, और इसी वर्ष यूरोप, इंगलैंड और अमेरिका का विस्तृत भ्रमण. 1998 में और फिर 1999 में काफी समय ऑक्सफोर्ड और कैम्ब्रिज में रहे. वार्सा यूनिवर्सिटी तथा 2001 में जागीलोनियन युनिवर्सिटी में आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय सेमिनारों में हिस्सा लिया.

संपर्क: एच-1544, चितरंजन पार्क, नई दिल्ली - 110019